आजकल हर इलेक्ट्रिक व्हीकल कंपनी इलेक्ट्रिक स्कूटर और इलेक्ट्रिक कार के नए नए मॉडल मार्केट में लांच कर रही है.

इलेक्ट्रिक व्हीकल की एक नयी केटेगरी-इलेक्ट्रिक बाइसिकल/इ बाइक पूरी दुनिया और भारत में बहुत बिक रही है और लोग इसे खुले दिल से स्वीकार कर रहे हैं.

देश में इलेक्ट्रिक व्हीकल्स की लोकप्रियता के बीच में इ साइकिल की संख्या में जबरदस्त वृद्धि से हम सब अनजान हैं.

Ann Katowich

एक रिपोर्ट के अनुसार, हमारे देश में देश में इलेक्ट्रिक बाइसिकल/इ बाइक पिछले साल की तुलना में दुगुनी संख्या में बिके हैं.

Ann Katowich

एक रेपुटेड  कंसल्टेंसी कंपनी के अनुसार साल 2023 तक पुरे विश्व में इ बाइक्स की संख्या 30 करोड़ हो जाएगी.

Ann Katowich

इलेक्ट्रिक व्हीकल्स की लोकप्रियता बढ़ने का एक प्रमुख कारण है कि इनमे पेट्रोल/डीजल व्हीकल्स के जैसे पेट्रोल/डीजल भराने पर नियमित/रेगुलर खर्च नहीं करना पड़ता है.

ये गाड़ियां शुरू में भले ही पेट्रोल/डीजल व्हीकल्स की तुलना में महँगी लगे लेकिन बाद में इनके इस्तेमाल करने से पेट्रोल/डीजल भराने की जरुरत नहीं होती है

भारत में वाहनों की संख्या में भी अच्छा खासा इजाफा हुआ है. इससे ट्रैफिक जैम एक सामान्य बात हो गयी है.

इ बाइक के लोकप्रिय होने के पीछे पेट्रोल/डीजल की बचत के अलावा एक प्रमुख कारण इनके लिए कम पार्किंग स्पेस की रिक्वायरमेंट भी है.

Ann Katowich

इलेक्ट्रिक व्हीकल्स के चार्जिंग इंफ्रास्ट्रक्चर समस्या का समाधान (सोल्युशन) इ बाइक में है.

Ann Katowich

संक्षेप में इ बाइक में इलेक्ट्रिक व्हीकल्स के द्वारा सामना किये जा रहे हर समस्या का समाधान है.

Ann Katowich